15 अगस्त 2023 की भाषण को इस तरह दीजिए, दो मिनट में भर जाएगा जोश [15 august speech]

15 august speech :15 अगस्त, 1947 को भारत को अंग्रेजी शासन से आजादी मिली, जो एक ऐतिहासिक दिन था। भारत में इस दिन हर वर्ष स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस भारत का राष्ट्रीय पर्व है, इसलिए कई जगह विशेष कार्यक्रम होते हैं. 15 अगस्त को हिंदी में वरिष्ठ और सम्मानित लोग हिंदी में भाषण देंगे। इस दौरान कई स्थानों पर वाद-विवाद प्रतियोगिता भी होती है, जहां हिंदी में 15 august speech को देने वालों प्रतियोगियों को काफी फायदा मिलता है। भारत का सबसे महत्वपूर्ण दिन, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाया जाता है. 15 अगस्त 1947 को भारत ब्रिटेन से साम्राज्य से आजाद हुआ था, जिसे हर साल मनाया जाता है। इस साल भी, देश के प्रधानमंत्री लाल किला पर तिरंगा फहरा कर आजादी का अनमोल उत्सव मनाएंगे।

15 August 2023 festival

त्योहार का नामस्वतंत्रता दिवस
तिथि15 अगस्त 2023 
भारत कब आजाद हुआ15 अगस्त 1947
महत्वदेश के स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने के लिए 
धर्महिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, यहूदी, बौद्ध (भारत में रहने वाले सभी धर्म)
समारोहझंडारोहण, परेड और झांकी

स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त 2023 भाषण

सभा में उपस्थित सभी लोगों को मेरा नमस्कार, आज हम सब इस सभा में देश की आजादी के 76वें वर्षगांठ को मनाने के लिए जुटे हैं. यह दिन हम सभी के लिए सबसे खास है. आज के भारत को आजाद हुए 75 साल पूरे हो गए हैं, जिसे पूरा देश आजादी के अमृत महोत्सव के तौर पर मना रहा है. इस पावन अवसर पर उन सभी स्वतंत्रता सेनानी को याद करेंगे जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राण की कुर्बानी दे दी. इन कुर्बानियों की बदौलत ही हमें ब्रिटिश शासन से सैकड़ों साल बाद आजादी मिली.

भारत एक विविध धर्म और संस्कृति वाला देश है। यहां हर साल कई त्यौहार मनाए जाते हैं, लेकिन 15 अगस्त का त्यौहार हर नागरिक को एकजुट करता है और देश की भावना को जगाता है। 15 अगस्त हमें स्वतंत्रता सेनानी और जवानों की याद दिलाता है जो अपनी जान की परवाह किए बिना देश को दुश्मनों से बचाया और आजादी दिलाया।

15 अगस्त का पवित्र कार्यक्रम पहली बार 15 अगस्त 1947 में शुरू हुआ था। दिल्ली के लाल किला से प्रथम प्रधानमंत्री श्री जवाहरलाल नेहरू और प्रथम राष्ट्रपति श्री राजेंद्र प्रसाद ने भारत का प्रथम स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम शुरू किया। 1600 ईस्वी में, ब्रिटिश भारत में व्यापार करने के इरादे से आया था। धीरे-धीरे उन्होंने यहां पर अपने व्यापार का वर्चस्व बढ़ाकर लोगों को अपने अधीन कर लिया। 24 फरवरी 1739 को करनाल की लड़ाई के बाद भारत का सबसे बड़ा राजा यहाँ से चला गया। Anglo-French युद्ध के बाद भारत में केवल ब्रिटेन एक विदेशी कंपनी बचा, बाकी सभी को बाहर निकाला गया। इसके बाद 1757 में सिराजुद्दौला के साथ पलासी की लड़ाई हुई, जिसमें अंग्रेजों ने धोखे से जीत हासिल की और बंगाल में अपना पहला साम्राज्य बनाया। अंग्रेजों ने फिर पूरे भारत पर अपना साम्राज्य बनाया।

15 august 2023 speech in hindi

1857 था पहला साल जब देश ने मंगल पांडे के नेतृत्व में स्वतंत्रता की मांग की। बाद में महात्मा गांधी, भगत सिंह, चंद्रशेखर आजाद और अन्य महान स्वतंत्रता सेनानियों ने अंग्रेज सरकार को मजबूर किया कि वह देश छोड़ दें। जहां भगत सिंह ने बहादुरी से अंग्रेजों को हर घाट से पानी पिलाया। महात्मा गांधी ने भी बिना किसी हिंसा के अंग्रेजों पर दबाव डालने का आह्वान किया। विभिन्न स्वतंत्रता सैनिकों ने अंग्रेजों को भारत से बाहर निकालने की कोशिश की।हमारा देश अंततः 15 अगस्त 1947 को ब्रिटेन साम्राज्य से आजाद होता है, हजारों स्वतंत्रता सेनानियों के बलिदान और उत्कृष्ट कार्य के कारण। इसलिए 15 अगस्त का पावन त्यौहार हर साल हमारे देश के लिए शहीद हुए लोगों को याद करने के लिए मनाया जाता है।

15 august speech

15 अगस्त 2023 को भारत का 76वां स्वतंत्रता दिवस होगा। 1947 से 2023 तक, भारत ने लगभग हर क्षेत्र में प्रगति की है। अपना वर्चस्व भारत में खेल, शिक्षा, समाज और तकनीक में बनाए रखा है। 1947 में, हर कोई सोच रहा था कि भारत कुछ सालों में समाप्त हो जाएगा, लेकिन जवाहरलाल नेहरू ने “ट्रस्ट विद डेस्टिनी” के भाषण से भारत को बदलकर आज एक अलग संस्कृति और सबसे बड़ा संविधान के साथ विश्व भर में प्रसिद्ध है। भारत में लगभग सभी धर्मों के लोग रहते हैं और हर व्यक्ति अपनी पसंद का जीवन जीता है। भारत दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा देश है और इसका संविधान सबसे बड़ा है। इसलिए भारत का नेतृत्व विश्व के 29 देशों का नेतृत्व करता है। यही कारण है कि हमारे देश की प्रगति लोगों की उम्मीद से थोड़ा धीरे रही है, लेकिन तकनीक आने वाले समय में तेजी से विकसित होगी।

भारत ने पिछले कुछ सालों में इंटरनेट पर भी बड़ी तेजी से प्रगति की है। भारत की स्वतंत्रता दिवस झांकी में भी बहुत बदलाव हुआ है। भारत जल्द ही सबसे समृद्ध और विकसित देश बन जाएगा।15 अगस्त 2023, स्वतंत्रता दिवस पर, देश का हर नागरिक अपने देश की तरक्की में अपना योगदान देने का कसम खायेगा। इस साल भी, हर साल की तरह, लाल किला से स्वतंत्रता दिवस की झांकी निकाली जाएगी, जो दुनिया को दिखाएगी कि भारत ने कितनी प्रगति की है।

15 अगस्त 2023 भाषण

साथियों, हर भारतवासी के लिए उसका देश सबसे पहले आना चाहिए. भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है. यहां की संस्कृति और सभ्यता को हमें नमन करना चाहिए. आइए, इस शुभ अवसर पर राष्ट्र निर्माण, देश के विकास और सम्मान बनाए रखने का संकल्प लेते हैं. स्वतंत्रता दिवस के इस पावन पर्व की आप सभी को ढेर सारी शुभकामनाएं. आइए पूरे ताकत के साथ बोलें…भारत माता की जय. जय हिंद, जय भारत.

Independence Day Speech in english | 15 August Speech 2023

Also Read :

Leave a Comment